Dosti par shayari

Published in Category Dosti Shayari on 13-Nov-2018 06:07 PM

Dosti ki kahani ab humari khatam  ho gai
khushiya aai aakar jane kha chali gai
bada naaz tha hame apni dosti par
sayad kismat buri thi ya kisi ki najar lag gai..

Dosti par shayari

दोस्ती की कहानी अब हमारी खत्म हो गई
खुशियां आई आकर जाने कहाँ चली गई
बड़ा नाज़ था हमें अपनी दोस्ती पर
शायद किस्मत बुरी थी या
किसी की नजर लग गई..

Share this on: